कौन थे Mohan Juneja ? Mohan Juneja in Hindi

केजीएफ चैप्टर 2 (KGF Chapter 2) फेम ऐक्टर मोहन जुनेजा (Mohan Juneja) का 7 मई 2022 की सुबह निधन हो गया। वह लंबे समय से बीमार थे और इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। ऐक्टर ने बेंगलुरु के एक प्राइवेट अस्पताल में अंतिम सांस ली। लोगों को अपनी कॉमेडी से हंसाने वाले मोहन आज सभी की आंखें नम करके इस दुनिया को छोड़ गए। उनके अचानक चले जाने से हर कोई हैरान है। खबरों की मानें तो उनका आज ही अंतिम संस्कार भी किया जाएगा।

मोहन जुनेजा ने बतौर कमीडियन करियर की शुरुआत की थी। केजीएफ में पत्रकार आनंद के इनफॉर्मर की भूमिका निभाई थी। उन्होंने इसके पहले तमिल, तेलुगु, मलयालम और हिंदी भाषा की कई फिल्मों में काम किया और अपने करियर में वह 100 से ज्यादा मूवीज दीं। वह केजीएफ चैप्टर 1 और केजीएफ चैप्टर 2 में भी नजर आए थे। ऐक्टर और कमीडियन को फिल्म ‘चेतला’ से बड़ा ब्रेक मिला था। इस फिल्म में निभाई उनकी भूमिका दर्शक के दिलों में घर कर गई थी, जिसे अब वह शायद ही कभी भुला सकेंगे।

ऐसा था मोहन जुनेजा का फिल्मी सफर
मोहन के जाने के बाद उनके चाहने वाले और फिल्म इंडस्ट्री सोशल मीडिया पर अपना दुख जाहिर कर रही है। सैंडलवुड ऐक्टर बचपन से ही ऐक्टर बनना चाहते थे। उन्होंने अपने कॉलेज के दिनों में भी नाटकों में हिस्सा लिया था। 2008 में आई रोमांटिक कन्नड़ फिल्म ‘संगमा’ से करियर की शुरुआत की थी। इसे रवि वर्मा गुब्बी ने डायरेक्ट किया था। इसके बाद उन्होंने कन्नड़ तमिल फिल्म ‘टैक्सी नंबर’ में अभिनय किया। 2010 में मोहन ने कन्नड़ भाषा के नाटक ‘नारद विजया’ में भी अपना जलवा बिखेरा। हालांकि मोहन जुनजा कन्नड़ फिल्मों के लिए ही जाने जाते हैं। 2018 में उन्होंने तो हॉरर फिल्म ‘निगूडा’ में भी काम किया था। यह भी कन्नड़ भाषा में ही थी। सभी तरह के जॉनर वाली फिल्में करने वाले मोहन जुनेजा एक कॉमेडी ऐक्टर के तौर पर ही जाने जाते थे।

Tags

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *